9.7.13

मंटो तुम्हे जीने नहीं देगा



सरकार तुम्हे मरने नहीं देगी, ... और मंटो तुम्हे जीने नहीं देगा.... बार बार आकर पूछेगा तुम्हारे जीने की वजह और दांतों में हाथों के नाख़ून काटते काटते सोचते रहोगे पर जवाब देने की स्थिति में नहीं रहोगे बाबु मोशाय...
बिलकुल नहीं,
मंटो तुम्हे घूर के देखेगा और तुम आँखे निचे किये रहोगे, सामने मेज़ पर पेग दिख रहा होगा पर हिम्मत नहीं होगी, उसे उठाने की ....
नहीं
दराज में और बोतल भी रखी है.
पर मंटो की आँखों में आँखे डाल कर उसे पेग ओफ्फ्रर नहीं कर पाओगे बाबु मोशाय...
बिलकुल नहीं,
याद रखना..