15.1.14

नफे सिंग पिट गया



नफे सिंग बुरी तरह पिट गया. हालाँकि उसे पिटना नहीं चाहिए था और पिट भी नहीं सकता था. पर पिट गया. प्रधानी करके कई सालों से पब्लिक के पैसों से मौज ले रहा था. एक दबंग से बरदाश्त नहीं हुआ. उसने नफे सिंग को पीट दिया – बुरी तरीके से.
पर नफे सिंग अपने पूर्वर्ती पीड़ियों की तरह हुन्नरमंद (पब्लिक का पैसा खाने का हुनर) था. भाग कर घर आया. एक नए लौंडे को पांचेक सालों से कुछ खिला पिला कर तगड़ा कर रखा था. तुरंत उसे बुलवा लिया.
और मोहल्ले में छाती ठोककर उस दबंग के पास गया और सारेआम एक ऊँची आवाज़ में बोला – मेरे को तो पीट दिया – मेरे छोटे भाई को पीट कर दिखा तो तब मानु कि तू वाक़ई ही दबंग है.

खबरे जो बेचैन करती हैं – उनमे से एक खबर की हेडिंग ये थी ...
लोकसभा चुनाव आप बनाम BJP, कांग्रेस गायब

बाकि आप समझदार है... नफे सिंग कौन और उसका छोटा भाई कौन हैं – अंदाज़ा लगा लीजिये.
~ जय रामजी की.

9.1.14

केजरीवाल को फ़िल्मी शहीद बनाता हिन्दू रक्षा दल.

हिन्दू रक्षा दल नाम का बेनर लेकर कुछ लोगों ने कल कोशाम्बी में आम आदमी पार्टी के कार्यालय में जो उत्पात मचाया उसकी चारों ओर से निंदा और भर्त्सना हो रही है. होनी भी चाहिए. हिन्दू सदा ही सहिष्णु रहे हैं और उसमे उग्रवाद या असहिष्णुता की कोई जगह नहीं रही है. इसी समाज ने सबसे ज्यादा सम्प्रदाय और पंथ दिए है. आज हिन्दू के नाम पर विष्णु गुप्ता और पिंकी चौधरी जैसे लोग तौड़फोड़ करके उसे हिन्दू राष्ट्रवाद का नाम दे रहे हैं तो ये दुर्भाग्यपूर्ण है.
आम आदमी पार्टी के नेता प्रशांत भूषण (जो पेशे से वकील हैं) ने कश्मीर पर जो ब्यान दिया – वो भारत की सवैधानिक व्यवस्था को ही चोट पहुंचा रहा था. निंदनीय था. अन्य राज्यों की तरह जम्मू-कश्मीर भारतसंघ का एक अंग है. और अंग तो मैं कह रहा हूँ अपितु सरकारी कागजों में तो अभिन्न अंग है. ऐसे महसूस हो रहा कि आम आदमी पार्टी सुप्रीमो ने जनमत संग्रह करवा कर सरकार बनाने और चलाने की बात करते हैं तो पार्टी के बाकि नेता उसी सियासत पर चलते हुए कश्मीर जैसे मुद्दे पर ऐसे ही जनमत संग्रह को प्रमुखता देने लगे है.