5.4.11

बहुत हो गया, किरकेट का स्यापा ....अब अन्ना को दिखाओ.....

बहुत हो गया, किरकेट का स्यापा ......

बहुत मिल गया पैसा..... शोहरत ..... और इतिहास में अमरता...... 
बस करो.


वो आज बैठ गए हैं - अन्नशन पर ....... न दही आलू खायेंगे.... या भीगे बादाम वाल दूध और न ही कुट्टू के आटे के पकोडे.....

अन्ना दुर्गा मैया की किरपा नहीं चाहते.... भारत माता के पुजारी हैं, उनके पुत्रों व आने वाली नस्लों के लिए भ्रष्टाचारमुक्त भारत चाहते हैं........ इसलिए पूर्ण भूखहड़ताल पर हैं....

  श्वर उनके इरादों को और बुलंद करे ...... और शक्ति दे......

मीडिया से जुड़े मित्रों, ....... बहुत हो गया भांड...... रात को रोड पर नाचती राजमाता का, नीली वर्दी वालों का, राडिया का, टाटा का और रीलाईन्स  का और राजा का...... 

आप भी चलो नयी दिल्ली...... 

अन्ना को दिखाओ.........
अन्ना को दिखाओ...... 

आज से अन्ना को दिखाओ..... अपने न्यूज़ चेनलों  बेशक उनकी बुराई करो....... पर उनको इग्नोर मत करना...... नहीं तो आने वाली नस्लें आपको कभी माफ नहीं करेंगी.......

जय राम जी की.