19.3.11

आ बाबा के अंगना में खेले होली....


चित्र  http://blogs.sacbee.कॉम  के साभार

आ बाबा के अंगना में खेले होली....

रंग ले आज ये सफ़ेद चादर मैली ...

जहाँ हरे गुलाबी नीले पीले को न नाज़ हो 
बस अंदर के रंगों का आगाज़ हो..
बेरंग रह कर करें खुदी संग मस्ती...
दुनिया भी पुकारे - अजीब है ये हस्ती...

आ बाबा के अंगना में खेले होली

भूल जा झूठी दुनियादारी के रंग....
होली की रंगीन मस्ती, दारू-भांग के संग...
ऐसी बरसे की वो 'बाबा' भी रह जाए दंग..

आ बाबा के अंगना में खेले होली


चित्र  http://www.flickr.com/photos/sanzen  के साभार 


होली की शुभकामनाएं.